Search

होयसल राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

Shakeel Anwar11-SEP-2018 18:10
GK Questions and Answers on the Hoysala Dynasty HN

होयसल प्राचीन दक्षिण भारत का एक राजवंश था। इसने दसवीं से चौदहवीं शताब्दी तक राज किया। इस राजवंश का शासन वर्तमान कर्नाटक के लगभग सम्पूर्ण भाग तथा तमिलनाडु के कावेरी नदी की उपजाऊ घाटी तक था। इनकी राजधानी पहले बेलूर थी पर बाद में स्थानांतरित होकर हालेबिदु हो गई।

1. निम्नलिखित में से किसने होयसल राजवंश की स्थापना की थी?

A. नृप काम II

B. विनयादित्य

C. एरयंग

D. वीर बल्लाल I

Ans: A

व्याख्या: कुछ इतिहासकारों का मानना है की होयसल वंश का प्रारम्भ सन 1111 ई. के आसपास मैसूर के प्रदेश में विट्टिग अथवा विट्टिदेव से हुआ। लेकिन कुछ लेखो आधार पर इतिहासकारों का कहना है की  के नृप काम ने इस राजवंश की स्थापन की थी। इसलिए, A सही विकल्प है।

2. निम्नलिखित में से किस होयसल शासक ने रामानुजचार्य के प्रभाव में हिंदू में परिवर्तित हुआ और अपना नाम 'विष्णुवर्धन' रखा लिया था?

A. एरयंग

B. वीर बल्लाल I

C. बिट्टी देव

D. नरसिंह I

Ans: C

व्याख्या: बिट्टी देव ने रामानुजचार्य के प्रभाव में हिंदू में परिवर्तित हुआ और उसने अपना नाम विष्णुवर्धन रख लिया तथा सन 1141 ई. तक राज्य किया। इसलिए, C सही विकल्प है।

3. निम्नलिखित में से कौन होयसल राजवंश की पहली राजधानी थी?

A. बेलूर

B. होलेबिंदु

C. मैसूर

D. इन में से कोई नहीं

Ans: A

व्याख्या: होयसल राजवंश की पहली राजधानी बेलूर थी, फिर बाद बिट्टी देव ने हालेबिदु को राजधानी बना दिया था। इसलिए, A सही विकल्प है।

चालुक्य राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

4. निम्नलिखित कथनों पर विचार करें।

I. इसको बिट्टी देव के नाम से भी जाना जाता था।

II. हरिहर (लोकप्रिय नाम हक्का) तथा बुक्काराया (लोकप्रिय नाम बुक्का) इसके सेनापति थे।

उपरोक्त में से कौन सा कथन वीर बल्लाला तृतीय के सन्दर्भ में सही है?

Code:

A. Only I

B. Only II

C. Both I and II

D. Neither I nor II

Ans: B

व्याख्या: वीर बल्लाला तृतीय वर्तमान में दक्षिण भारत के कर्नाटक नाम से जाने जानेवाले क्षेत्र पर शासन करने वाले होयसल साम्राज्य के अंतिम महान शासक थे। हरिहर (लोकप्रिय नाम हक्का) तथा बुक्काराया (लोकप्रिय नाम बुक्का) इसके सेनापति थे जिन्होंने विजयनगर साम्राज्य की स्थापना की थी। इसका शासनकाल बड़ा ही अनिश्चितता भरा राजनीतिक और सांस्कृतिक से भरा पड़ा था क्योंकी इस दौरान दक्खन और दक्षिण भारत के अन्य सभी प्रमुख हिन्दू साम्राज्यों ने इस्लामी आक्रमण के सामने घुटने टेक दिए थे। इसलिए, A सही विकल्प है।

5. कन्नड़ कवि सुमनोबाना किस होयसल शासक के दरबारी कवि थे?

A. नरसिंह I

B. नरसिंह

C. वीर सोमेश्वरा

D. वीर नरसिंह II

Ans: D

व्याख्या: वीर नरसिंह II होयसल राजवंश का शासक था जिसने अपने शासनकाल में कदवास और पंड्या को पपरस्त किया था। इसने ही इस राजवंश को उत्कर्ष तक पहुचाया था तथा इसके शासनकाल में इस राजवंश की शक्ति बहुत अधिक बढ़ गई थी। कन्नड़ कवि सुमनोबाना इसके दरबारी कवि थे। इसलिए, D सही विकल्प है।

पाल राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

6. निम्नलिखित में से किस होयसल शासक में साम्राज्य को अपने दो पुत्रों के बीच बाट दिया था?

A. नरसिंह I

B. नरसिंह

C. वीर सोमेश्वर

D. वीर नरसिंह II

Ans: C

व्याख्या: वीर सोमेश्वर ने होयसल साम्राज्य को अपने दो पुत्रों के बीच बाट दिया था। इसलिए, C सही विकल्प है।

7. निम्नलिखित में से कौन सा होयसल शासक पार्श्वनाथ (जैन धर्म के तेइसवें (23वें) तीर्थंकर) की पूजा करता था तथा मगहनंदी सिद्धांत जो बलतकारा गण के दिगंबर महन्त थे उनको आध्यात्मिक सलाहकार नियुक्त किया था?

A. नरसिंह III

B. वीर बल्लाल III

C. वीर नरसिंह II

D. उपरोक्त सभी

Ans: A

व्याख्या: नरसिंह III ऐसा होयसल शासक था जो पार्श्वनाथ (जैन धर्म के तेइसवें (23वें) तीर्थंकर) की पूजा करता था तथा मगहनंदी सिद्धांत जो बलतकारा गण के दिगंबर महन्त थे उनको आध्यात्मिक सलाहकार नियुक्त किया था। इसलिए, A सही विकल्प है।

8. हलाबिदु का केदारेश्वर मंदिर, बेलवाड़ी का वीरा नारायण मंदिर, अमृतपुरा का अमृतेश्वारा मंदिर और मोसाले का चेन्नाकेशावा और नागेश्वर मंदिर का निर्माण किस होयसल शासक के शासनकाल में हुआ था?

A. नरसिंह III

B. वीरा बल्लाल III

C. वीर नरसिंह II

D. वीरा बल्लाल II

Ans: D

व्याख्या: हलाबिदु का केदारेश्वर मंदिर, बेलवाड़ी का वीरा नारायण मंदिर, अमृतपुरा का अमृतेश्वारा मंदिर और मोसाले का चेन्नाकेशावा और नागेश्वर मंदिर का निर्माण वीरा बल्लाल II के शासनकाल में हुआ था। इसलिए, D सही विकल्प है।

काकतीय राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

9. निम्नलिखित में से किस होयसल शासक ने पश्चिमी चालुक्य साम्राज्य को हराकर होयसल राजवंश के एक स्वतंत्र शासक के रूप में घोषित कर दिया था?

A. वीरा बल्लाल II

B. नरसिंह I

C. वीर नरसिंह II

D. वीर सोमेश्वरा

Ans: B

व्याख्या:

10. निम्नलिखित में से किसने जैन कवि जन्ना और नेमिचंद्र तथा ब्राह्मण कवि रुद्रबट्टा को संरक्षण दिया था?

A. वीरा बल्लाल II

B. नरसिंह I

C. वीर नरसिंह II

D. वीर सोमेश्वरा

Ans: A

व्याख्या: वीरा बल्लाल II ने प्रतीच्य चालुक्य को पराजित करके नये राज्य की नींव रखी थी। इसने जैन कवि जन्ना और नेमिचंद्र तथा ब्राह्मण कवि रुद्रबट्टा को संरक्षण दिया था। इसलिए, A सही विकल्प है।

1000+ भारतीय इतिहास पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी