Search

ब्रिटिश भारत के क्रांतिकारी आंदोलनों पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

Shakeel Anwar30-AUG-2018 12:42
GK Questions and Answers on the revolutionary movements during British India HN

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय आह्वानों, उत्तेजनाओं एवं प्रयत्नों से प्रेरित, भारतीय राजनैतिक संगठनों द्वारा संचालित अहिंसावादी और सैन्यवादी आन्दोलन था, जिनका एक समान उद्देश्य, अंग्रेजी शासन को भारतीय उपमहाद्वीप से जड़ से उखाड़ फेंकना था। इस आन्दोलन की शुरुआत 1857 में हुए सिपाही विद्रोह को माना जाता है।

भारत की स्वतंत्रता के लिये अंग्रेजों के विरुद्ध आन्दोलन दो प्रकार का था एक अहिंसक आन्दोलन एवं दूसरा सशस्त्र क्रान्तिकारी आन्दोलन। भारत की आज़ादी के लिए 1757 से 1947 के बीच जितने भी प्रयत्न हुए, उनमें स्वतंत्रता का सपना संजोये क्रान्तिकारियों और शहीदों की उपस्थित सबसे अधिक प्रेरणादायी सिद्ध हुई।

1. निम्नलिखित में से किस को 'भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन की दादी' बोला जाता है?

A. सरोजिनी नायडू

B. लक्ष्मीबाई, झांसी की रानी

C. एनी बेसेंट

D. मैडम कामा

Ans: D

व्याख्या: श्रीमती भीखाजी जी रूस्तम कामा (मैडम कामा) भारतीय मूल की पारसी नागरिक थीं जिन्होने लन्दन, जर्मनी तथा अमेरिका का भ्रमण कर भारत की स्वतंत्रता के पक्ष में माहौल बनाया। वे जर्मनी के स्टटगार्ट नगर में 22 अगस्त 1907 में हुई सातवीं अंतर्राष्ट्रीय कांग्रेस में भारत का प्रथम तिरंगा राष्ट्रध्वज फहराने के लिए सुविख्यात हैं। इनको 'भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन की दादी' भी बोला जाता है। इसलिए, D सही विकल्प है।

2. निम्नलिखित में से कौन अनुशीलन समिति के संस्थापक सदस्य थे?

A. मदनलाल ढींगरा

B. प्रसाद बिस्मिल

C. पी. मित्रा

D. भगत सिंह

Ans: C

व्याख्या: अनुशीलन समिति भारत के स्वतंत्रता संग्राम के समय बंगाल में बनी अंग्रेज-विरोधी, गुप्त, क्रान्तिकारी, सशस्त्र संस्था थी। बंगाल में बीसवीं शताब्दी के आरम्भ में ही क्रांतिकारी संगठित होकर कार्य करना आरम्भ कर चुके थे। सन् 1902 में कोलकाता में अनुशीलन समिति के अन्तर्गत तीन समितियाँ कार्य कर रहीं थीं। इस अनुशीलन समिति की स्थापना कोलकाता के बैरिस्टर प्रमथ पी. मित्रा ने की थी। इन तीन समितियों में से पहली समिति प्रमथ पी. मित्रा की थी, दूसरी समिति का नेतृत्व सरला देवी नामक एक बंगाली महिला के हाथों में था तथा तीसरी के नेता थे अरविन्द घोष जो उस समय उग्र राष्ट्रवाद के सबसे बड़े समर्थक थे। इसलिए, C सही विकल्प है।

3. निम्नलिखित में से किसने लन्दन में कर्जन वायली की हत्या की थी?

A. मदनलाल ढींगरा

B. प्रसाद बिस्मिल

C. पी. मित्रा

D. भगत सिंह

Ans: A

व्याख्या: मदनलाल ढींगरा भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के अप्रतिम क्रान्तिकारी थे। उन्होने विलियम हट कर्जन वायली नामक एक ब्रिटिश अधिकारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसलिए, A सही विकल्प है।

4. ग़दर पार्टी की स्थापना किस जगह पर हुई थी?

A. सैन फ्रांसिस्को

B. कैलिफ़ोर्निया

C. टोक्यो

D. लंदन

Ans: A

व्याख्या: ग़दर पार्टी की स्थापना अमेरिका के सैन फ़्रांसिस्को के एस्टोरिया में 1913 में अंग्रेज़ी साम्राज्य को जड़ से उखाड़ फेंकने के उद्देश्य से हुआ। इसलिए, A सही विकल्प है।

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अधिवेशन पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

5. निम्नलिखित में से किसने 1894 में हिंदू धर्म संरक्षिनी सभा की स्थापना की थी?

A. बाग जतिन, भूपेंद्र नाथा दत्ता, और बरिंद्र घोष

B. चापेकर बंधू, दामोदर, वासुदेव और बालकृष्ण

C. वासुदेव बलवंत फडके और वी.डी सावरकर

D. श्री अरबिंदो, देशबंधु चित्तंजन दास, सुरेंद्रनाथ टैगोर और जतिंद्रनाथ बनर्जी

Ans: B

व्याख्या: चापेकर बंधू, दामोदर, वासुदेव और बालकृष्ण ने 1894 में हिंदू धर्म संरक्षिनी सभा सभा की स्थापना की थी। इसलिए, B सही विकल्प है।

6. ग़दर पार्टी की स्थापना किसने किया था?

A. लाला हरदयाल

B. सरदार सोहन सिंह

C. तारकनाथ दास

D. उपरोक्त सभी

Ans: D

व्याख्या: लाला हरदयाल, सरदार सोहन सिंह और तारकनाथ दास  गदर पार्टी के संस्थापक सदस्य थे। इसके अतिरिक्त केसर सिंह थथगढ (उपाध्यक्ष), लाला हरदयाल (महामंत्री), लाला ठाकुर दास धुरी (संयुक्त सचिव) और पण्डित कांशी राम मदरोली (कोषाध्यक्ष) थे। इसलिए, D सही विकल्प है।

7. निम्नलिखित में से कौन काकोरी षड्यंत्र प्रकरण से जुड़ा नहीं था?

A. राम प्रसाद बिस्मिल

B. अशफाकउल्ला

C. राजेंद्र लाहिड़ी

D. मुज़फ्फर अहमद

Ans: D

व्याख्या: 9 अगस्त, 1925 को उत्तर प्रदेश में लखनऊ के पास काकोरी में क्रन्तिकारी देशभक्तों ने रेल विभाग की ले जा रही संग्रहीत धनराशि को लूटा था। यह घटना इतिहास में काकोरी षड्यंत्र के नाम से जानी जाती है।इस डकैती में अशफाकउल्ला, चन्द्रशेखर आज़ाद, राजेन्द्र लाहिड़ी, सचीन्द्र सान्याल, मन्मथनाथ गुप्त, रामप्रसाद बिस्मिल आदि शामिल थे। इसलिए, D सही विकल्प है।

भारतीय इतिहास के ऐतिहासिक घटनाओं पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

8. निम्नलिखित में से किस क्रांतिकारी संगठन ने काकोरी षड्यंत्र को अंजाम दिया था?

A. अनुशीलन समिति

B. ग़दर पार्टी

C. हिन्दुस्तान रिपब्लिकन ऐसोसिएशन

D. हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन

Ans: C

व्याख्या: 9 अगस्त, 1925 को उत्तर प्रदेश में लखनऊ के पास काकोरी में क्रन्तिकारी देशभक्तों ने रेल विभाग की ले जा रही संग्रहीत धनराशि को लूटा था। हिन्दुस्तान रिपब्लिकन ऐसोसिएशन के सदस्यों ने ने काकोरी षड्यंत्र को अंजाम दिया था। इसलिए, C सही विकल्प है।

9. निम्नलिखित कथनों पर विचार करें।

I. काकोरी ट्रेन डकैती में 8000 रुपया लूटा गया था। इन

II. काकोरी षड्यंत्र में जर्मन में बने माउजर पिस्तौल का इस्तेमाल किया गया था।

उपरोक्त में से कौन सा कथन काकोरी षड्यंत्र के सन्दर्भ में सही है?

A. Only I

B. Only II

C. Both I and II

D. Neither I nor II

Ans: C

व्याख्या: काकोरी षड्यंत्र, भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के क्रान्तिकारियों द्वारा ब्रिटिश राज के विरुद्ध भयंकर युद्ध छेड़ने की खतरनाक मंशा से हथियार खरीदने के लिये ब्रिटिश सरकार का ही खजाना लूट लेने की एक ऐतिहासिक घटना थी। इस ट्रेन डकैती में 8000 रुपया लूटा गया था। इन पिस्तौलों की विशेषता यह थी कि इनमें बट के पीछे लकड़ी का बना एक और कुन्दा लगाकर रायफल की तरह उपयोग किया जा सकता था। हिन्दुस्तान रिपब्लिकन ऐसोसिएशन के केवल दस सदस्यों ने इस पूरी घटना को अंजाम दिया था। इसलिए, C सही विकल्प है।

10.  चटगांव के पुलिस शस्त्रागार पर हमले का प्रमुख कौन था?

A. सुभाष चन्द्र बोस  

B. रोशन सिंह

C. चंद्रशेखर

D. सूर्य सेन

Ans: D

व्याख्या: सूर्य सेन भारत की स्वतंत्रता संग्राम के महान क्रांतिकारियों में से एक थे। उन्होने इंडियन रिपब्लिकन आर्मी की स्थापना की और चटगांव के पुलिस शस्त्रागार पर हमले का सफल नेतृत्व किया था। इसलिए, D सही विकल्प है।

1000+ भारतीय इतिहास पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी