Search

दक्षिण भारत के राजवंशों पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

21-AUG-2018 14:29

    GK Questions and Answers on the South Indian Dynasties HN

    दक्षिण भारत में चार हजार वर्षों से अधिक अवधि में कई राजवंशों और साम्राज्यों का उदय और पतन हुआ था। सातवहन, चोल, चेरा, चालुक्य, पल्लव, राष्ट्रकूट, काकातिया और होसाला राजवंश दक्षिण भारत के इतिहास में इन राजवंशों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

    1. चोल साम्राज्य के संस्थापक कौन था?

    A. विजयलाया चोल

    B. आदित्य प्रथम

    C. परंतका चोल प्रथम

    D. गंधरादित्य चोल

    Ans: A

    व्याख्या: चोल साम्राज्य का उदय 9वीं शताब्दी में हुआ और दक्षिण प्राय:द्वीप का अधिकांश भाग इसके अधिकार में था। चोल शासकों ने श्रीलंका पर भी विजय प्राप्त कर ली थी और मालदीव द्वीपों पर भी इनका अधिकार था। इस साम्राज्य की स्थापना विजयालय ने की थी। इसलिए, A सही विकल्प है।

    2. बदामी के चालुक्य राजवंश के संस्थापक कौन था?

    A. किर्तिवर्मन प्रथम

    B. पुलकेशिन

    C. मंगलेषा

    D. पुलकेशिन द्वितीय

    Ans: B

    व्याख्या: चालुक्य प्राचीन भारत का एक प्रसिद्ध क्षत्रिय राजवंश है। इनकी राजधानी बादामी (वातापि) थी। इस राजवंश की स्थापना पुलकेशिन ने की थी। इसलिए, B सही विकल्प है।

    3. निम्नलिखित में से कौन चेर राजवंश का अंतिम शासक था?

    A. रवि राम वर्मा

    B. भास्कर रवि वर्मा तृतीय

    C. वीरा केरल

    D. राम वर्मा कुलशेखर

    Ans: D

    व्याख्या: चेर प्राचीन भारत का एक राजवंश था। इसको यदा कदा केरलपुत्र नाम से भी जाना जाता है। इस राजवंश का अंतिम शासक राजा राम वर्मा कुलशेखर था। उसने 1090 से 1102 ईस्वी तक शासन किया था। इसलिए, D सही विकल्प है।

    भारतीय इतिहास के ऐतिहासिक घटनाओं पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

    4. निम्नलिखित कथन (नों) पर विचार करें।

    I. चेरों का राजकीय चिह्न 'धनुष' था।

    II. चेर शासकों के समय मुजरिस को प्रमुख बन्दरगाह बनाया गया था।

    उपरोक्त में से कौन सा कथन चेर राजवंश के सन्दर्भ में सही है?

    Code:

    A. Only I

    B. Only II

    C. Both I & II

    D. Neither I nor II

    Ans: C

    व्याख्या: ऐतरेय ब्राह्मण में उल्लिखित 'चेरपाद:' सम्भवत: चेरों के विषय में प्रथम जानकारी है। अशोक के शिलालेखों में 'केरलपुत्र' के नाम से चर्चित चेर राज्य को 'कुडावर', 'बिल्लवर', 'कुट्टवर', 'पुरैयार', 'मलैयर' एवं 'बनारवर' आदि नामों से भी जाना जाता है। चेरों का राजकीय चिह्न 'धनुष' था। चेर शासकों के समय मुजरिस को प्रमुख बन्दरगाह बनाया गया था। इसलिए, C ही सही विकल्प है।

    5. सातवाहन राजवंश के संस्थापक कौन था?

    A. सिमुका

    B. कान्हा

    C. सतकर्णी

    D. शिवस्वाती

    Ans: A

    व्याख्या: सातवाहन राजवंश भारत का प्राचीन राजवंश था, जिसने केन्द्रीय दक्षिण भारत पर शासन किया था। भारतीय इतिहास में यह राजवंश 'आन्ध्र वंश' के नाम से भी विख्यात है। सिमुक ने इस राजवंश के संस्थापना की थी। इस वंश के राजाओं ने विदेशी आक्रमणकारियों से जमकर संघर्ष किया था। इसलिए, A ही सही विकल्प है।

    पल्लव राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

    6. निम्नलिखित कथन (नों) पर विचार करें।

    I. इसके जारी किये गए सिक्को पर श्वसुर अंगीयकुलीन महारथी त्रणकयिरो का नाम अंकित है।

    II. यह सातवाहन शासकों में पहला शासक था जिसने इस वंश के शासकों में प्रिय एवं प्रचलित, ‘‘शातकर्णी’’ शब्द से अपना नामकरण किया।

    III. 'दक्षिणीपथ के भगवान' के रूप में संदर्भित

    IV. इसका नाम सांची स्तूप के प्रवेश द्वारों पर अंकित है।

    उपरोक्त में से कौन सा कथन सातकर्णि के सन्दर्भ में सही है?

    Code:

    A. I, II and IV

    B. I, III & IV

    C. I, II & III

    D. All of the above

    Ans: D

    व्याख्या: सातकर्णि के सिक्कों पर उसके श्वसुर अंगीयकुलीन महारथी त्रणकयिरो का नाम भी अंकित है। शिलालेखों में उसे 'दक्षिणापथ' और 'अप्रतिहतचक्र' विशेषणों से विभूषित किया गया है। सातवाहन शासकों में वह पहला था जिसने इस वंश के शासकों में प्रिय एवं प्रचलित, ‘‘शातकर्णी’’ शब्द से अपना नामकरण किया तथा इसका नाम सांची स्तूप के प्रवेश द्वारों पर भी अंकित है। इसलिए, D ही सही विकल्प है।

    7. निम्नलिखित में से कौन सातवाहन राजवंश का अंतिम शासक था?

    A. वशिष्ठिपुत्र सतकर्णी

    B. शिवस्कंद सतकर्णी

    C. श्री यज्ञ सतकर्णी

    D. विजया

    Ans: C

    व्याख्या: श्री यज्ञ सातवाहन वंश के इतिहास में अंतिम महत्त्वपूर्ण शासक था। इसने क्षत्रपों पर विजय प्राप्त की थी और इसके उत्तराधिकारी के बारे में अधिकांश जानकारी पौराणिक वंशावलियों और सिक्कों से मिलती है। इसलिए, C ही सही विकल्प है।

    8. दक्षिण भारत का पहला शासक कौन था जिसने स्वर्ण सिक्कें जारी किये थे?

    A. पुलकेशिन द्वितीय

    B. विक्रमादित्य प्रथम

    C. विक्रमादित्य

    D. विनयादित्य

    Ans: A

    व्याख्या: पुलकेशी द्वितीय, पुलकेशी प्रथम का पौत्र तथा चालुक्य वंश का चौथा राजा था, जिसने 609-642 ई. तक राज्य किया। यह दक्षिण भारत का पहला शासक था जिसने स्वर्ण सिक्कें जारी किये थे। इसलिए, A ही सही विकल्प है।

    चेरा राजवंश पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

    9. निम्नलिखित में से किस सतवाना राजा ने अपने माता का नाम अपने नाम से जोड़ा था?

    A. वशिष्ठपुत्र पुलुमावी

    B. गौतमी पुत्र शातकर्णी

    C. वशिष्ठिपुत्र सतकर्णी

    D. उपरोक्त सभी

    Ans: B

    व्याख्या: गौतमी पुत्र श्री शातकर्णी सातवाहन वंश का सबसे महान शासक था जिसने लगभग 25 वर्षों तक शासन करते हुए न केवल अपने साम्राज्य की खोई प्रतिष्ठा को पुर्नस्थापित किया अपितु एक विशाल साम्राज्य की भी स्थापना की। यह पहला शासक था जिसने अपने माता का नाम अपने नाम से जोड़ा था। इसलिए, B ही सही विकल्प है।

    10. निम्नलिखित में से किस चोल राजा ने चिदंबरम मंदिर के शिव पर तमिल भजन लिखा था?

    A. अरिंजय चोला

    B. परंतका चोल प्रथम

    C. सुंदर चोल

    D. गंधरादित्य चोल

    Ans: A

    व्याख्या: चोल शासकों ने न केवल एक स्थिर प्रशासन दिया, वरन् कला और साहित्य को बहुत प्रोत्साहन दिया। कुछ इतिहासकारों का मत है कि चोल काल दक्षिण भारत का 'स्वर्ण युग' था। अरिंजय चोला ने चिदंबरम मंदिर के शिव पर तमिल भजन लिखा था। इसलिए, A ही सही विकल्प है।

    1000+ भारतीय इतिहास पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

    Newsletter Signup

    Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK