Search

अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस 2019: थीम, इतिहास और मुख्य तथ्य

क्या आप जानते हैं कि दुनिया की लगभग 15% आबादी पहाड़ों में रहती है? हम इस बात को नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं कि पहाड़ केवल निवासियों के लिए ही नहीं, बल्कि तराई या लो लैंड्स में रहने वाले लाखों लोगों के लिए भी महत्वपूर्ण हैं. वे दुनिया की प्रमुख नदियों के स्रोत हैं और वाटर साइकिल में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. आखिर अंतर्राष्ट्रीय पर्वतीय दिवस कब और क्यों मनाया जाता है? आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.
Dec 11, 2019 10:35 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
International Mountain Day in hindi
International Mountain Day in hindi

पहाड़ों के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने, अवसरों पर ध्यान केंद्रित करने और पहाड़ों के विकास पर ज़ोर डालने के लिए हर साल 11 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय पर्वतीय दिवस (International Mountain Day (IMD) मनाया जाता है.

यह दिन पर्यावरण में पहाड़ों की भूमिका और जीवन पर इसके प्रभाव को समझने के लिए लोगों को शिक्षित करता है. अंतर्राष्ट्रीय पर्वतीय दिवस हर साल एक विशेष थीम के साथ मनाया जाता है.

अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस (IMD) 2019 का थीम क्या है?

अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस 2019 का थीम "Mountains matter for Youth" है. यह थीम युवाओं पर केंद्रित है ताकि वे परिवर्तन के सक्रिय एजेंटों के रूप में और कल के भविष्य के नेतृत्व के रूप में आगे आ सकें. बच्चों और लोगों को पहाड़ों के बारे में शिक्षित करना आवश्यक है क्योंकि पहाड़ ताजा पानी, स्वच्छ ऊर्जा, भोजन, इत्यादि प्रदान करते हैं.

आइये अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस (IMD) के इतिहास के बारे में जानते हैं.

अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस का गठन 1992 में तब हुआ जब एजेंडा 21 के अध्याय 13 के "Managing Fragile Ecosystems: Sustainable Mountain Development" को पर्यावरण और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में अपनाया गया. इसमें कोई शक नहीं, इसने पहाड़ों के विकास के इतिहास को एक नया रूप दिया. पहाड़ के महत्व की ओर बढ़ते हुए ध्यान को देखते हुए, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2002 को संयुक्त राष्ट्र अंतर्राष्ट्रीय पर्वत वर्ष घोषित किया और 11 दिसंबर को 2003 से अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस के रूप में नामित किया. इसलिए हम कह सकते हैं कि पहली बार अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस 11 दिसंबर 2003 को मनाया गया था. हर साल यह एक विशेष थीम के साथ मनाया जाता है.

जानें कैलाश पर्वत से जुड़े 9 रोचक तथ्य

अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस (IMD) किस तरह मनाया जाता है?

यह विभिन्न तरीकों से मनाया जाता है. इनमें से एक यह है कि Centro de Investigacao de Montanha (CIMO) और पार्टनर्स 13 से 14 दिसंबर तक "Mountain, Sport and Sustainable Development Days" के रूप में अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस मनाएंगे. पहले दिन एक सम्मेलन होगा जिसमें वक्ताओं, एथलीटों, राजनेताओं, खेल संघों और शोधकर्ताओं भाग लेंगे और पहाड़ों के महत्व पर प्रकाश डालेंगे. इस दिन पहली बार, बासले किसान संघ (Baslay Farmer's Association (BFA) और इसके स्थानीय साथी 11 दिसंबर को उत्सव में शामिल होंगे, जिसमें लंबी पैदल यात्रा और एक native tree nursery की स्थापना की जाएगी. पहाड़ों और पर्वतीय लोगों के महत्व पर एक मंच भी आयोजित किया जाएगा.

FAO के अनुसार, आने वाले महीनों में, इस दिन के लिए एक संचार उपकरण बॉक्स आईएमडी वेबसाइट पर छह भाषाओं में भी उपलब्ध कराया जाएगा.

इस दिन विभिन्न मंचों, गतिविधियों, प्रस्तुतियों, छात्र वाद-विवाद, फोटो, कला प्रतियोगिताओं, और कार्यक्रमों में विशिष्ट समूहों को लक्षित किया जाता है और उनका आयोजन भी किया जाता है. आप #MountainsMatter हैशटैग का उपयोग करके सोशल मीडिया पर बातचीत में भी शामिल हो सकते हैं. आप अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस पर जानकारी के लिए अपनी योजना के बारे में info-IMD@fao.org पर भी लिख सकते हैं ताकि इसे अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस की वेबसाइट पर प्रकाशित किया जा सके. आप पहाड़ों के जीवन पर अपने अनुभव, अपने पसंदीदा पहाड़ की फोटो, क्षण, इत्यादि अपने दोस्तों, रिश्तेदारों के साथ भी साझा कर सकते हैं.

विभिन्न आधार पर पर्वतों का वर्गीकरण

आइये अब पर्वतों के महत्व के बारे में जानते हैं.

पर्वत प्रकृति की सबसे सुंदर संरचनाओं में से एक हैं, राजसी, ठोस जो आकाश के खिलाफ खड़े हैं और ऐसा महसूस कराते हैं मानो वे पूरे देश को अपनी छाया से पकड़ सकते हैं. वे मनोरंजन, संसाधन और कृषि के स्रोत हैं. उत्पादन के लिए पर्वतों की ढलानें पर्याप्त स्थान प्रदान करती हैं.

- वाटर साइकिल में पर्वत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं,

- पहाड़ों में जमी हुई बर्फ, वसंत और गर्मियों के मौसम में पिघल जाती है और बस्तियों, कृषि और उद्योगों के लिए आवश्यक पानी उपलब्ध कराती है.

- वास्तव में, अर्ध-शुष्क और शुष्क क्षेत्रों में, लगभग 90% नदी पहाड़ों से ही तो आती हैं.

- Temperate यूरोप में, राइन नदी बेसिन के क्षेत्र के लगभग 11% हिस्से पर कब्जा करने वाले आल्प्स यानी पहाड़ वार्षिक प्रवाह का 31% और गर्मियों में 50% से अधिक की आपूर्ति करते हैं.

- पहाड़ों से आने वाला पानी भी पनबिजली (hydroelectric power) का स्रोत है.

- विकासशील देशों में लकड़ी का ईंधन पहाड़ की बस्तियों में ऊर्जा का प्रमुख स्रोत है.

- माउंटेन वुड (Mountain wood) का भी कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है.

- पहाड़ के पारिस्थितिक तंत्र जैविक विविधता इत्यादि में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

इसलिए, हर साल जागरूकता बढ़ाने के लिए 11 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय पर्वत दिवस मनाया जाता है ताकि केवल हमारे जीवन के लिए ही नहीं बल्कि निवासियों, पारिस्थितिकी तंत्र और पर्यावरण के लिए भी पर्वतों के महत्व पर ध्यान केंद्रित किया जा सके.

विश्व के प्रमुख पर्वत श्रृंखलाओं की सूची

हिमालय पर्वत श्रंखला का विभाजन या वर्गीकरण