Search

International Women's Day 2020: यह 8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है?

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस हर साल 8 मार्च को एक थीम के साथ पूरे विश्व में मनाया जाता है. परन्तु क्या आप इसके पीछे मनाने के इतिहास के बारे में जानते हैं? इसको 8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है? इस बार का थीम क्या है? आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.
Mar 7, 2020 11:09 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Why International Women’s Day is celebrated on 8 March?
Why International Women’s Day is celebrated on 8 March?

महिलाओं के प्रति सम्मान, पशंसा और उनके आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उपलब्धियों के उत्सव को मनाने के लिए हर साल 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पूरे विश्व में मनाया जाता है. परन्तु क्या आप जानते हैं कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है, कब से इसको मनाना शुरू हुआ इत्यादि. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

कैसे अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत हुई?

1908 मैं न्यूयॉर्क सिटी मैं वोटिंग के अधिकारों की मांग के लिए 15000 महिलाओं ने काम के घंटे कम करने और बेहतर वेतन मिलने के लिए मार्च किया. अमेरिका की सोशलिस्ट पार्टी की घोषणा के अनुसार एक साल बाद 1909 मैं यूनाइटेड स्टेट्स में पहला राष्ट्रीय महिला दिवस 28 फरवरी को मनाया गया. जर्मनी की सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी की महिला ऑफिस की लीडर Clara Zetkin ने 1910 में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने का विचार रखा. उन्होंने सुझाव दिया की महिलाओं को अपनी मांगो को आगे बढ़ाने के लिए हर देश में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाना चाहिए. यहीं आपको बता दें कि तकरीबन 17 देशों की 100 से ज्यादा महिलाओं ने एक इंटरनेशनल कॉन्फ़्रेंस में इस सुझाव पर सहमती जताई और इस प्रकार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की स्थापना हुई. इस समय इसका मुख्य उद्देश्य था महिलाओं को वोटिंग का अधिकार दिलवाना. पहली बार 19 मार्च, 1911 को आस्ट्रिया डेनमार्क, जर्मनी और स्विट्ज़रलैंड में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया. दो साल बाद इसकी तारीख को बदलते हुए यानी 1913 मैं इसे 8 मार्च कर दिया गया और तब से इसे हर साल मनाया जाता है.

भारत में महिला सशक्तिकरण से संबंधित कानून

इसको मनाने की आधिकारिक मान्यता 1975 में दी गई जब संयुक्त राष्ट्र ने इसे वार्षिक तौर पर एक थीम के साथ मनाना शुरू किया. अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की पहली थीम थी 'सेलीब्रेटिंग द पास्ट, प्लानिंग फ़ॉर द फ्यूचर.'

UN के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2020 की थीम है "I am Generation Equality: Realizing Women’s Rights”. इस थीम को संयुक्त राष्ट्र की नई बहु-भाषी मुहिम, जनरेशन इक्वेलिटी के साथ जोड़ा गया है, जो बीजिंग डिक्लेरेशन और प्लेटफ़ॉर्म फॉर एक्शन की 25वीं वर्षगांठ का प्रतीक है. इसको बीजिंग, चीन में महिलाओं पर चौथे विश्व सम्मेलन में 1995 में अपनाया गया. यहीं आपको बता दें कि बीजिंग प्लेटफॉर्म फॉर एक्शन को हर जगह महिलाओं और लड़कियों के सशक्तिकरण के लिए सबसे प्रगतिशील रोडमैप के रूप में मान्यता प्राप्त है.
साथ ही आपको बता दें कि इस साल का कैंपेन (campaign) थीम है #EachforEqual.

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2019 का थीम है #BalanceforBetter

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कैसे मनाया जाता है?

सम्पूर्ण विश्व में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस धूमधाम से मनाया जाता है. इस दिन घर हो या ऑफिस सभी जगह महिलाओं को स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जाता है. उन्हें गिफ्ट्स, फ्लावर्स, चॉकलेट्स इत्यादि दिए जाते हैं. कई जगहों पर पार्टी भी कि जाती हैं. कहीं-कहीं इस दिन ऑफिसों मैं महिलाओं को छुट्टी या फिर हाफ डे दिया जाता है. थीम के अनुसार जगह-जगह पर कैंपेन होते हैं. महिलाओं की आर्थिक, सामाजिक और राजनितिक उपलब्धियों के जश्न के तौर पर भी इसे मनाया जाता है.
तो अब अप जान गए होंगे की 8 मार्च को ही क्यों अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है.

राष्ट्रीयता और नागरिकता के बीच क्या अंतर होता है?

क्या आप जानते हैं कि सन्डे को ही छुट्टी क्यों होती है?