Search

जानें पोर्टेबल पेट्रोल पंप क्या हैं और इनकी क्या विशेषताएं हैं?

11-SEP-2018 18:25

    Portable Petrol Pump in India

    भारत में अभी लगभग 60 हजार के लगभग पेट्रोल पंप हैं. लेकिन दुर्गम इलाकों और देश के विभिन्न  कौनों में इनकी संख्या बहुत कम है. अभी परम्परागत पेट्रोल पम्पों को खोलने के लिए ग्रामीण इलाकों में न्यूनतम 12 लाख रुपयों की जरुरत होती है जबकि शहरी इलाकों में खोला जाना है तो कम से कम 25 लाख रुपयों की जरुरत होगी.

    परम्परागत पेट्रोल पम्पों को खोलने के लिए 800 वर्ग मीटर से 1200 वर्ग मीटर (हाईवे के लिए) जगह की जरुरत होती है लेकिन पोर्टेबल पम्प कम जगह में खोले जा सकेंगे. पेट्रोलियम मिनिस्ट्री ने भारत में पोर्टेबल पेट्रोल पम्पों को खोलने की अनुमति दे दी है और जल्दी ही इस प्रकार के पेट्रोल पम्प भारत के उन इलाकों में मिलेंगे जहाँ पर अभी भी पेट्रोल पम्प नहीं हैं.

    आइये इस लेख में इन्ही नए प्रकार के पोर्टेबल पेट्रोल पम्पों की विशेषताओं के बारे में जानते हैं.

    क्या आप जानते हैं कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों का निर्धारण कैसे होता है

    पोर्टेबल पेट्रोल पम्पों की खासियत

    भारत में पोर्टेबल पेट्रोल पंप की धारणा नई है लेकिन विदेशों में यह कांसेप्ट पुराना हो चुका है. भारत में ये पोर्टेबल पेट्रोल पम्प “एलिंज” नाम की कंपनी लगाएगी.

    पोर्टेबल पेट्रोल पम्पों की सबसे बड़ी बात कि इन पेट्रोल पम्पों पर लोग खुद ही तेल और गैस भर सकेंगे और डिजिटल पेमेंट कर सकेंगे इसके लिए कर्मचारी की जरुरत भी नहीं होगी. यहाँ पर किसी भी प्रकार के क्रेडिट / डेबिट कार्ड, इलेक्ट्रो वैलेट का उपयोग किया जा सकता है. इसके साथ साथ इन पम्पों पर कैमरा, जीपीआरएस सिस्टम, सैटेलाइट इंटरनेट संचार की सुविधाएँ भी उपलब्ध होंगी. इसमें एक ही फ्यूल स्टेशन से पेट्रोल, डीजल, विमानन गैसोलीन, केरोसिन, एलपीजी, पानी, जैसे उत्पादों को भरा जा सकेगा. इन पम्पों की अन्य विशेषताएं इस प्रकार हैं;

    1. इस प्रकार के पेट्रोल पम्पों की टैंक क्षमता 9,975 लीटर से 35,000 लीटर के बीच की होगी.

    2. इन पम्पों पर 220v का इनबिल्ट पावर बैक अप भी होगा ताकि जब लाइट ना हो तब भी ये पेट्रोल पम्प कार्य कर सकें.

    3. इस प्रकार के पेट्रोल पम्पों को 2 घंटे के भीतर स्थानांतरित और स्थापित किया जा सकता है.

    portable petrol pump india

    कितनी लागत और जगह की जरुरत होगी?

    हालाँकि पोर्टेबल पेट्रोल पम्प लगाने के लिए आपको 400 स्क्वॉयर मीटर की जमीन ही काफी है लेकिन इस प्रकार के पेट्रोल पम्प परंपरागत पम्पों की तुलना में महंगे जरूर हैं. इसका सेट अप लगाने के लिए आपके पास 90 लाख से 1.20 करोड़ रुपये होने चाहिए लेकिन आपको ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस खर्च की 80% राशि बैंक लोन के रूप में दे देंगे.

    अप्लाई कैसे करें;

    एलिंज पोर्टेबल पेट्रोल पंप के मैनेजिंग डायरेक्टर इंद्रजीत प्रुथी ने कहा कहा है कि ''राज्य सरकारों के साथ हुई बातचीत के आधार पर हम यही उम्मीद कर रहे हैं कि सम्बंधित राज्य या फिर तेल कंपनी पोर्टेबल पेट्रोल पंप के लिए टेंडर निकालेगी. जिसे ये टेंडर मिलेगा, वहीं इसे सेट अप किया जाएगा.'

    एक बार टेंडर मिलने के बाद कंपनी मशीन इंस्टॉल करेगी. ये मशीनें अलग-अलग आकार की होंगी. सबसे छोटी मशीन 9 हजार लीटर पेट्रोल पंप स्टोर करने की क्षमता रखती है. वहीं, सबसे बड़ी वाली मशीन 30 हजार लीटर ईंधन की क्षमता वाली है.

    कहाँ पर लगाये जायेंगे ये पेट्रोल पम्प

    1. पर्यटन स्थलों (जम्मू&कश्मीर और पूर्वोत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में).

    2. उन कृषि क्षेत्रों में इन्हें लगाया जा सकता है जब फसल कटने का पीक सीजन होता है.

    3. ग्रामीण क्षेत्रों में जरुरत के हिसाब से इन्हें स्थानांतरण आधार पर लगाया जा सकता है.

    4. जिन शहरी क्षेत्रों में भूमि की लागत बहुत अधिक हो वहां पर इसे लगाया जा सकता है.

    5. इन्हें नए विकसित आवासीय कालोनियों, वाणिज्यिक और विशेष आर्थिक क्षेत्र (SEZs) में लगाया जा सकता है.

    6. जिन स्थानों पर सीजन (ठंडी या गर्मी) के हिसाब से पर्यटन होता हो वहां पर लगाया जायेगा.

    7. जिन जगहों पर बाढ़, सुनामी और भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाएं आतीं हो वहां पर इनका लगाया जाना बहुत ही फायदेमंद होगा क्योंकि आपदा की चेतावनी जारी होने के पहले  इन्हें उस जगह से हटाया जा सकता है जबकि स्थायी पेट्रोल पम्पों के मामलों में ऐसा करना संभव नहीं था.

    9. भारतीय रेलवे, बस स्टैंड आयर नए विकसित हाइवेज के पास इन्हें लगाया जा सकेगा.

    10. सागर समुद्र तट, बंदरगाहों और समुद्र के इलाकों के अंदर इनकी स्थापना हो सकेगी.

    उम्मीद है कि भारत की पेट्रोलियम इंडस्ट्री के इतिहास में पोर्टेबल पेट्रोल पम्प की स्थापना एक मील का पत्थर साबित होगी और जिन जगहों पर पेट्रोल पम्प नहीं थे वहां भी अब इनकी पहुँच बढ़ जाएगी.

    जानें पेट्रोल पम्प खोलने की पूरी प्रक्रिया क्या होती है?

    क्या आप पेट्रोल पम्प पर अपने अधिकारों के बारे में जानते हैं?

    DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

    Newsletter Signup

    Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK