Search

सामान्य ज्ञान

Also Read in : English

LibraryLibrary

सामान्य ज्ञान तथ्य

अगर भारत में दो टाइम जोन हो तो क्या होगा?

टाइम जोन किसी क्षेत्र का वो स्थान जो कानूनी, वाणिज्यिक और सामाजिक उद्देश्यों के लिए एक समान मानक समय दिखाता है। यह जोन किसी भी देश की सीमा तथा उसके उपविभागों की सीमाओं का पालन करता है क्योंकि यह एक ही समय में निकट वाणिज्यिक या अन्य संचार के क्षेत्रों के लिए सुविधाजनक होता है। इस लेख के माध्यम से हमने ये बताया है की अगर भारत दो टाइम जोन का पालन करे तो कैसे न केवल डेलाइट को बचाएगा बल्कि उत्पादकता में भी वृद्धि कर सकेगा।

सामान्य-ज्ञान-तथ्य में और पढ़ें

General knowledge videos

सामान्य ज्ञान क्विज

उत्तर प्रदेश की जनगणना; 2011 पर प्रश्नोत्तरी

जागरण जोश, विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे IAS/PCS/SSC/CDS इत्यादि की तैयारी कर रहे प्रतियोगियों के लिए उत्तर प्रदेश की आगामी परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश जनगणना, 2011 पर आधारित 13 प्रश्नों की एक प्रश्नोतरी प्रकाशित कर रहा है. उम्मीद है कि यह आपकी सफलता में सहायक होगा.

सामान्य-ज्ञान-क्विज में और पढ़ें

इतिहास

क्या आप जानते हैं हिंदुस्तानी संगीत और कर्नाटक संगीत में क्या अंतर हैं?

सुव्यवस्थित ध्वनि, जो रस की सृष्टि करे, संगीत कहलाती है। गायन, वादन व नृत्य ये तीनों ही संगीत हैं।हाल में, पॉप, जैज आदि जैसे संगीत के नये रूपों के साथ शास्त्रीय विराशत का फ्यूज़न करने की ओर रुझान बढ़ा रहा है और लोगो का ध्यान भी आकर्षित कर रहा है। भारतीय शास्त्रीय संगीत को दो प्रकार से बाटा गया है- हिंदुस्तानी शैली और कर्नाटक शैली। इस लेख में हमने, हिंदुस्तान संगीत और कर्नाटक संगीत के बारे में बताया है, जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

इतिहास में और पढ़ें

भूगोल

अगर भारत में दो टाइम जोन हो तो क्या होगा?

टाइम जोन किसी क्षेत्र का वो स्थान जो कानूनी, वाणिज्यिक और सामाजिक उद्देश्यों के लिए एक समान मानक समय दिखाता है। यह जोन किसी भी देश की सीमा तथा उसके उपविभागों की सीमाओं का पालन करता है क्योंकि यह एक ही समय में निकट वाणिज्यिक या अन्य संचार के क्षेत्रों के लिए सुविधाजनक होता है। इस लेख के माध्यम से हमने ये बताया है की अगर भारत दो टाइम जोन का पालन करे तो कैसे न केवल डेलाइट को बचाएगा बल्कि उत्पादकता में भी वृद्धि कर सकेगा।

भूगोल में और पढ़ें

विज्ञान

क्या आप जानते हैं कि सोने में जंग क्यों नहीं लगता है?

सोना प्राचीन काल से ही भारत में उपयोग किया जाता रहा है. इसकी शुद्धता को कैरट में मापा जाता है. लोग इसको गहनों, सिक्कों इत्यादि के रूप में प्रयोग करते हैं. आपने ध्यान दिया होगा कि बाकी अन्य धातुओं की तरह सोने में जंग नहीं लगता है. इसके पीछे क्या कारण हो सकता है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

विज्ञान में और पढ़ें

भारतीय राजव्यवस्था

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के क्या- क्या कार्य होते हैं?

भारत में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पद को सबसे पहले 1998 में पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने सृजित किया था. ज्ञातव्य है कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार की नियुक्ति भारत के प्रधानमन्त्री के द्वारा की जाती है. वर्तमान में भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार श्री अजीत डोभाल हैं. अब तक इस पद पर 5 व्यक्ति रह चुके हैं. इस लेख में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के कार्यों के बारे में बताया गया है.

भारतीय-राजव्यवस्था में और पढ़ें

अर्थव्यवस्था

रुपये के कमजोर होने से भारतीय अर्थव्यवस्था को होने वाले फायदे और नुकसान

1 जनवरी 2018 को एक डॉलर का मूल्य 63.88 था. इसका मतलब है कि जनवरी 2018 से अक्टूबर 2018 तक डॉलर के मुकाबले भारतीय रूपये में लगभग 15% की गिरावट आ गयी है. इस लेख में हम यह बताने जा रहे हैं कि रुपये की इस गिरावट का भारत की अर्थव्यवस्था पर क्या सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है.

अर्थव्यवस्था में और पढ़ें

पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

उत्तर प्रदेश के वन्यजीव अभ्यारण्यों की सूची

भारतीय उप-महाद्वीप न केवल अपनी सांस्कृतिक विविधता के लिए जाना जाता है बल्कि यहाँ पर वनस्पतियों और जीवों की विविध प्रजातियाँ भी पाई जाती हैं। इसलिए उनके संरक्षण के लिए 500 से अधिक प्राणी अभयारण्य स्थापित किये गए हैं। इस लेख में हमने उत्तर प्रदेश के वन्यजीव अभ्यारण्यों की सूची दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

पर्यावरण-और-पारिस्थितिकीय में और पढ़ें

सामान्य ज्ञान सूची

उत्तर प्रदेश के वन्यजीव अभ्यारण्यों की सूची

भारतीय उप-महाद्वीप न केवल अपनी सांस्कृतिक विविधता के लिए जाना जाता है बल्कि यहाँ पर वनस्पतियों और जीवों की विविध प्रजातियाँ भी पाई जाती हैं। इसलिए उनके संरक्षण के लिए 500 से अधिक प्राणी अभयारण्य स्थापित किये गए हैं। इस लेख में हमने उत्तर प्रदेश के वन्यजीव अभ्यारण्यों की सूची दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।

सामान्य-ज्ञान-सूची में और पढ़ें

Register to get FREE updates

All Fields Mandatory
  • Please Select Your Interest
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

जागरण जोश के सामान्य ज्ञान सेक्शन का मुख्य उद्येश्य आईएएस / पीसीएस / एसएससी / सीडीएस एवं बैंकिंग जैसे प्रतियोगी परीक्षाओं की तयारी कर रहे सभी उम्मीदवारों को विस्तृत एवं सटीक जानकारी प्रदान करना है| भारत में नंबर एक शिक्षा पोर्टल के रूप में विख्यात जागरण जोश भारत और विश्व के इतिहास, भूगोल, राजनीतिशास्त्र, अर्थशास्त्र, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, कला और संस्कृति जैसे अलग अलग विषयों पर आधारित सामान्य ज्ञान क्विज एवं सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न-उत्तर उपलब्ध करवाता है| हमारे अध्ययन सामग्री की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि इसे प्रतिष्ठित लेखकों द्वारा तैयार किया जाता है जो पूरी तरह से प्रमाणिक एवं मौलिक होता है| यह पूरी अध्ययन सामग्री हमारे वेबसाइट के सामान्य ज्ञान सेक्शन में उपलब्ध है|
सामान्य ज्ञान सेक्शन के प्रमुख हिस्से हैं:
1. जनरल नॉलेज क्विज/ सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के नवीनतम पाठ्यक्रम पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी| अगर कोई विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो वे हमारे सामान्य ज्ञान सेक्शन में जाकर विभिन्न विषयों से संबंधित सामान्य ज्ञान के मुश्किल और आसान प्रश्नों को सामान्य ज्ञान क्विज के माध्यम से हल कर सकते हैं|
2. जनरल नॉलेज सूची: यह सेक्शन न केवल प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों की जरूरतों को पूरा करता है बल्कि यह सामान्य पाठकों के लिए भी बहुत उपयोगी है।
3. सामान्य ज्ञान  तथ्य: इस सेक्शन में पौराणिक कथाओं, विज्ञान, रक्षा आदि जैसे विभिन्न विषयों से संबंधित सामान्य ज्ञान पर आधारित शोध सामग्री उपलब्ध है|
हमारे सामान्य ज्ञान सेक्शन की सबसे महत्वपूर्ण एवं अनूठी विशेषता यह है कि इसमें पूरी अध्ययन सामग्री हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है।
आइये अपने सामान्य ज्ञान को बढ़ाने के लिए सबसे मौलिक एवं प्रामाणिक अध्ययन सामग्री का लाभ उठाने की दिशा में शुरूआत करें|

view more

Newsletter Signup

Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK